एक ने मुंह व गला दबाए रखा, दूसरे ने पकड़े रखे हाथ, फिर तीसरे बदमाश ने खींच लिए महिला के कान से झूमके

crime

डूंगरपुर जिले के ग्रामीण क्षेत्र में बिजली की समस्या व गर्मी से निजात ​पाने के लिए इन दिनों लोग परिवार के साथ घर के आंगन में बाहर सोते हैं, लेकिन बाहर सोना ही भारी पड़ सकता है। एक मई की मध्य रात्रि को साबला थाना क्षेत्र के मूंगेड़ गांव में एक परिवार रोजाना की तरह बाहर सोया था। रात के करीब दो बजे रह होंगे। इस दौरान तीन बदमाश लूट के इरादे से घर के आंगन में आते हैं। एक बदमाश महिला का गला व मुंह दबाए रखता है, दूसरा बदमाश हाथों को पकड़े रखता है। इसी दौरान तीसरा बदमाश के महिला के दोनों कानों से झूमके खींच लेता है। कानों से झूमके खीचने से महिला चोटिल हो जाती है। अस्पताल ले जाना पड़ता है और दोनों कानों में पांच—पांच टांके आते है।

घटना के बाद महिला के चिल्लाने पर परिजन जाग गए। वहीं गांव वाले एकत्रित हो गए। मुंह पर हाथ इसलिए रखा ताकि महिला चिल्ला नहीं सकें। दो कानों में पहने सोने के झुमके बदमाश खींचकर ले उड़े। गले में पहनी सोने की चेन भी पार कर ली। चोरी व लूट की इस घटना की जिले भर में चर्चा है। इस तर​ह का पहला मामला हर किसी के सामने आया है। घटना के बाद से महिला सहमी हुई है। गला दबाने के कारण सूजन भी आ गई है। इसके बाद से रिश्तेदार व ग्रामीणों का आना शुरु हो गया है हालांकि अब तक पुलिस को तीनों बदमाशों को पकड़ने में सफलता नहीं मिल सकी है। इसलिए बाहर सोना कितना परेशानी दे सकता है।

मूंगेड़ निवासी मंजुला देवी पत्नी डायालाल सेवक अपने परिवार के साथ रात को घर के बाहर आंगन में सोई हुई थी। रात करीब दो बजे तीन अज्ञात बदमाश आंगन में प्रवेश कर महिला के खाट के पास खड़े हो गए। कान का सोने का झुमका व गले की चेन समेत दो तौले का सामान खींच कर भाग गए। झूमके खींच कर निकालने से महिला लहूलुहान हो गई। डायालाल को पत्नी मंजूला ने बताया कि एक बदमाश ने दोनों हाथ पकड़ लिए। दूसरे बदमाश ने गला दबाते हुए मुंह पर हाथ रख दिया। इस बीच अचानक से दोनों कानों से तेजी से झुमके खींच लिए।चोट लगने से दोनों कानों में 5-5 टांके लगवाए। सूजन आई। आवाज भी गले से नहीं निकल पाई। बुधवार को दिनभर ग्रामीण, परिजन व रिश्तेदारों के मिलने का क्रम जारी रहा।

Related posts

2 Thoughts to “एक ने मुंह व गला दबाए रखा, दूसरे ने पकड़े रखे हाथ, फिर तीसरे बदमाश ने खींच लिए महिला के कान से झूमके”

  1. This proves that a small number people actually optimise their web letters.
    Tracking is the part of blog marketing you have got to
    record. Some other instances may perhaps be a greater sums cash. http://rsci.ru/bitrix/rk.php?goto=https://adhere2.info%2F__media__%2Fjs%2Fnetsoltrademark.php%3Fd%3D918kiss.poker%2Fcasino-games%2F70-lpe88-lucky-palace-casino

  2. The result of which they didn’t do a pretty good job
    which they started to feel cleared. My first affiliate website was a one-page, content-rich site which reviewed 3 to
    5 FOREX trading programs. http://918.credit/casino-games/lpe88

Leave a Comment