क्या जानते है आप, डूंगरपुर में है लंदन…

लंदन इग्लैंड की राजधानी है। सबसे अधिक आबादी वाला खूबसूरत शहर। गगनचुंबी इमारते, टावर आॅफ लंदन, लंदन अंडरग्राउंड यहां की शान है। पर, किसी ने सोचा भी नहीं होगा कि डूंगरपुर में भी लंदन हो सकता है। लंदन वाले सोचते होंगे कि डूंगरपुर ने हमारे शहर को कैद कर लिया है। बनकोडा—आसपुर मार्ग पर मुख्य मार्ग पर एक गांव है नरणिया। जिसे लंदन के नाम से जाना जाता है। 1700 की आबादी वाला गांव है। लंदन जैसी ऐसी कोई बात नहीं है। गांव के साइन बोर्ड पर लंदन जरूर नजर आ जाएगा। यह रागेला ग्राम पंचायत का राजस्व गांव है। यहां से गुजरने वाले लोग बस सोचते रहते हैं कि यहां लंदन लिखा है। कई वर्षो से इसे बस लंदन उपनाम की पहचान के साथ चर्चाओं में है।
वागड़ दर्शन की टीम द्वारा नरणीया को लंदन कहे जाने को लेकर बातचीत की तो दो तरह की बातें सामने आई। बताते हैं कि गांव में एक व्यक्ति को शेरो शायरी की आदत थी। वह बस यहीं कहता कि मेरा नरणिया लंदन से कम नहीं। कोई पूछता उसे कहां जा रहा है, लंदन जा रहा हूं, तू चलेगा क्या..फिर कांलातर में गांव को लंदन उपनाम मिल गया।
कई लोग कहते हैं कि इस बात में इतनी अधिक सच्चाई नहीं है कि लंदन क्यों कहा जाता है। कहते हैं कि मुख्य मार्ग पर गांव होने के कारण नरणीया कहना उचित नहीं है, इसलिए उपनाम से पुकारा जाता है। कहते हैं कि उपनाम गांव के लिए अच्छा रहता है। कई लोग इसलिए इसका प्रयोग करते हैं। सुबह—सुबह गांव का नाम लिया जाना ठीक नही लगता है। इसलिए उपनाम को पहचान मिली।
यह पढ़े :
पोरबंदर से डूंगरपुर तक बनाई नवल भाई ने पहचान। https://bit.ly/2zIHG6l
सुकून यह है कि डूंगरपुर में भी लंदन है। लंदन वाले सोच रहे हैं कि डूंगरपुर वाले किसी से कम नहीं है। राजस्थान जैसे प्रदेश में लंदन जैसे शहर को छोटे से गांव ने ब्रेकेट में कैद रखा है। लोग कहते हैं कि मेरा नरणीया लंदन से कम थोड़े ही है…यदि आपके पास ओर भी जानकारी है तो हमसे साझा कर सकते हैं।

Related posts

Leave a Comment