वागड़ की शख्सियत नाथूसिंह राठौड़, जिन्हें इंडियन आर्मी करती है याद..

wd

अकबर के खिलाफ युद्ध लड़ने वाले जयमल राठौड़ के वंशज वागड़ के लेफ्टिनेंट जनरल नाथूसिंह राठौड़ एक ऐसी शख्सियत थी जो अपने कार्य के प्रति कभी लापरवाह नहीं रहे। इनकी ईमानदारी व देशभक्ति ऐसी थी कि कई लोग इन्हें आज भी अपना आदर्श मानते हैं। इनका उत्साह व मेहनत देखकर हर कोई अचरज में पड़ जाता था। चाहे कितना बड़ा अधिकारी क्यों न हो, वह अपनी बात कहने में कभी हिचकिचाते नहीं थे। लोग बताते हैं कि साहस व स्वाभिमान इनका आभूषण था। इनका जन्म रियासतकाल में डूंगरपुर के गुमानपुरा…

Read More

ओह माय गॉड…डूंगरपुर में एचआईवी से हर चौथे दिन एक की मौत

hiv aids wagad darshan

डूंगरपुर। जनजाति बहुल डूंगरपुर जिले में एचआईवी हर दिन अपने पांव पसार रहा है। एचआईवी में जिला अति संवेदनशील माना जा रहा है। प्रदेश सरकार ने इन पर नियंत्रण के लिए अब तक लाखों करोड़ों रुपये खर्चं कर दिए है, लेकिन नियंत्रण के कार्य सिर्फ कागजों में होते नजर आ रहे हैं। ऐसे में उद्देश्य ही पूरे होते नहीं दिख रहे हैं। एचआईवी से जिले में हर चौथे दिन एक व्यक्ति की मौत हो रही है। एआरटी सेंटर बनने के बाद अब तक 352 लोगों की मौत हो चुकी है। प्रदेश सरकार ने इस…

Read More

डिजिटल से कदमताल में पीछे डूंगरपुर के नेताजी…

wagad darshan

डूंगरपुर। वर्तमान समय सोशल मीडिया का है। राज्य व राष्ट्रीय स्तर पर जनप्रतिनिधि सोशल मीडिया के जरिये अपनी बात पहुंचा रहे हैं। पीएम-सीएम भी सोशल मीडिया का अपनी बात पहुंचाने के लिए हथियार के रूप में उपयोग कर रहे हैं। युवा वर्ग सोशल मीडिया पर अधिक सक्रिय है, ऐसे में जिले के नेता भी सोशल मीडिया के जरिये अपनी उपस्थित दर्ज करा रहे हैं, लेकिन वह सिर्फ गिनती में है। भाजपा-कांग्रेस के अधिकतर जनप्रतिनिधि निष्क्रिय बने हुए है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सांसद व विधायकों को सोशल मीडिया पर सक्रिय रहने…

Read More