वागड़ में नहीं देखी होगी ऐसी कोर्ट, जहां बिना पुलिस केस के निपटाए जाते हैं मामले

wagad darshan

डूंगरपुर। आजकल हर कोई कोर्ट कचहरी से दूर रहना पंसद करता है। कोर्ट कचहरी का चक्कर सिरदर्दी बढ़ा देता है। यहां समय भी जाता है, ओर ढ़ेर सारा रुपया निकल जाता है। निर्णय होते होते सालों बीत जाते हैं। जेब में कुछ नहीं बचता है, तो अंत में समझौते की राह पर चलना पड़ता है। आखिर ऐसी नौबत आए क्यों। क्यों हम कोर्ट व पुलिस थाने के चक्कर काटे ? हमारे डूंगरपुर जिले में एक समाज ऐसा भी हैं, जिसने अपराधों की संख्या में कमी लाने का निर्णय लिया है।…

Read More